WHATSAPP KI KAHANI

0

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको internet sikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों आज में इस पोस्ट में एक बहुत पोपुलर एप्लीकेशन  के सफलता के बारे में बाताने जा राहा हु.जी हां और यह एप्लीकेशन भारत में 90% से जादा लोग इसके इस्तेमाल करते है.में मानता हु की इसके usres 90% से भी जादा है लेकिन उसमे से बहुत कम लोगो को ही उसके सफलता के बारे में पाता है.तोह में सोचा की आज में आपलोगों के साथ इस पोपुलर एप्लीकेशन के सफलता के बारे में शेयर करू.जी हा उस एप्लीकेशन का नाम है whatsapp तोह चलिए फिर whatsapp के सफलता के बारे में जानते है.

whatsapp किसने बानाया था?

दोस्तों आपको बाता दू की यह जोह whatsapp है यह दोनों दोस्तों मिलकर ही सबसे पहले इसके खोज किया था.जिसके एक के नाम है brian acton और दुसरे के नाम है jan koum .और यह दोनों दोस्तों का  सबसे पहले मुलाकात  एक yahoo के  ऑफिस में हुआ था.और दोनों दोस्त कमसे कम 10 साल साथ में नौकरी किया ,इसीलिए दोनों बहुत आछे एक दुसरे का दोस्त भी बन गया था.और उसके बाद 2007 में दोनों ने मिलकर yahoo की नौकरी छोर दिया.और  दोनों बहुत घुमा मस्ती  किया और लाइफ को एन्जॉय किया.फिर एक दिन अचानक jan koum  का दिमाग में आईडिया आया की क्यों ना एक ऐसे एप्लीकेशन बानाए जाए जिससे हाम आपने दोस्तों को आपने बारे में मेसेज के दरिये बाता सके.और उसके लिए हामे कोई भी तरह का पैसा ना देना पढ़े.फिर जब यह आईडिया jan koum ने brian acton को बाताया तोह शुरू में acton को यह फैसला थोडा मुश्किल लागा.

whatsapp कैसे बना था?

लेकिन finnaly brian actonभी मान ही गया था.और फिर दोनों कोडिंग में तोह मास्टर तोह था ही.फिर दोनों जी जान लागाकर एप्लीकेशन को बाना ही लिया.और उस एप्लीकेशन का नाम राखा whatsapp.whatsapp तोह बनकर तैयार था लेकिन इसमें एक बहुत बड़ा प्रॉब्लम भी था.इसमें से सबसे बड़ा प्रॉब्लम यह था की रजिस्ट्रेशन  के समय जोह one time password (otp) आता था और यह कोई और कंपनी के अंडर में था इसलिए जब भी कोई यह    एप्लीकेशन में रजिस्ट्रेशन करता था तोह उनका  बैंक अकाउंट से पैसा काट जाता था.और फिर धीरे धीरे उनके बैंक अकाउंट से पैसा ख़तम होने लागा था.इसीलिए whatsapp खतरे में आने लागा था.तब jan koum ने brian acton को एक दिन काहा की क्यों ना इस प्रोजेक्ट को येही पार बंध कर दिया जाये.और हाम कोई jaige पे नौकरी कर लेंगे.तब brian acton ने jan koum को समझाया की आगर हाम इस प्रोजेक्ट को येही छोर दे तोह हामारे जैसे बड़ा मुर्ख इस दुनिया में और कोई नहीं होगा.

तब brian acton ने काहा की क्यों ना ऐसे करते है की यह प्रोजेक्ट को करते रहते है और साथ में कोई job भी करते है.यह आईडिया jan koum को बहुत आछा लागा.और दोनों ने मिलकर नौकरी का तालाश शुरू कर दी.और सबसे पहले facebook के head quater में गया लेकिन वोहा से उन्हें अपोस कर दिया गया.उसके बाद वोह ट्विटर के head quater गए और वोहा से भी आपोस कर दिए गए.एक तरफ उन्हें नौकरी नहीं मिल रही थी और दुसरे तरफ उनके पढ़े हुए प्रोजेक्ट whatsapp का प्रॉब्लम ख़तम होने का नाम ही नहीं ले राहा था.अब दोनों इतना निराश हो चुके थे की अब धीरे धीरे लागने लगा की whatsapp को बंध करना ही होगा.लेकिन दोस्तों एक आईडिया जोह बदल दे आपके दुनिया

बास कुछ ऐसे ही हुआ इन दोनों दोस्तों के साथ और एकदिन brian ने काहा jan से की क्यों ना हाम आपने पुराने दोस्तों से कुछ मदत मांगे …तब उन्होंने उनके सारे दोस्तों को आपने घर बुलाया और प्रोजेक्ट के बारे में बाताया और उनके प्रोजेक्ट के आनेवाले face के परिशानियो के बारे में बाताया तब उनके सबी दोस्तों ने मिलकर लागभग 2.50000$ दिया और तबसे उन्होंने whatsapp पे दुबारा काम करना शुरू कर दिया.और आपने सपनो को पूरा कर ही लिया.और इस एप्लीकेशन ने 2010  से लेकर 2014 तक आपने 600000000 users पूरे कर कर लिया था.और न्यूज़ साईट के अनुसार 2013 के बाद whatsapp पार हर दिन 1000000 नए लोग जुड़ रहे है.

और आज whatsapp users की संख्या 100000000 हो चुके है.और सिर्फ भारत में ही 10M से जादा users जुड़े है.और 2014 में फेमस network साईट facebook ने whatsapp को 19 बिलियन$ में खरीद लिया.और यह वोही facebook था जिन्होंने इन् दोनों को नौकरी देने में इनकार कर दिया था.और आज वोही facebook ने उन्हें 19 बिलियन$ तोह दिए ही और साथ में इन दोनों को facebook ने whatsapp incorporation का प्रमुख शेयर पार्टनर भी बानाया.pop साइट्स के अंदाज इन दोनों का नाम दुनिया का सबसे आमीर लोगो में गिने जाते है.दोस्तों यह दोनों वोही दोस्त है जिन्होंने आपना जोश उचा किया,ऐसा नहीं है की इन दोनों को कोई प्रॉब्लम नहीं आया.एक समय यह था की इन दोनों ने सोचा था की यह प्रोजेक्ट को बंध करके नौकरी करे.लेकिन इन् दोनों ने प्रॉब्लम के सामने हार नहीं माना उस बुरे हालत में भी एक दुसरे का साथ निभाया.और आप देख सकते है की इन दोनों आज काहा है.

तोह दोस्तों यह दोनों का काहानी से हामे यह सिख मिलता है की आप जब भी कोई काम करते है तोह सिर्फ उनके उपर ही फोकस करे और जोह भी आप करना चाहते है तोह उससे पूरा करके ही छोरे.कोई भी काम को करते करते बिच में ही ना छोरे.अगर इन दोनों ने ऐसे करके whatsapp का प्रोजेक्ट छोर देता तोह सायेद हाम सब whatsapp अभीतक इस्तेमाल नहीं कर पाते थे.

उम्मीद करता हु की आपको यह काहानी आछा लागा.और आगे भी ऐसे interesting काहानी के बारे में जानने के लिए internet sikho को subscribe करना ना भूले.और इस काहानी से आपको किया सिख मिला वोह भी आप निचे कमेंट box का उपोयोग करके बाता सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here