हर एक लड़की की जीबन काहानी

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको internetsikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों आज हम इस पोस्ट में बात करनेवाले है की एक लड़की के जीबन किस तरह से बीतता है खास करके हामारे देश में.उन्हें जन्म से लेकर अंत तक किस तरह से ताल मिलाकर चलना पढता है और कितना आजादी दिया जाता है उसके बारे में जानेंगे.और हा आजका यह पोस्ट कोई story नहीं है यह हर लड़की के सच्ची बाते है जोह की भारत में सबसे जादा एक लड़की के उपर लागू होता है.

लड़की को आपने जीबन में क्या क्या मानकर चलना पड़ता है?

एक लड़की जब छोटे रहते है तब उसके माता पिता के हर एक बातो को मानकर चलना पड़ता है.और जब बड़ा हो जाता है तब उसके boyfriend के हर एक बातो को मानकर चलना पड़ता है.और साधी के बाद पति तोह है ही उनके मत में ही मानकर चलना पड़ता है.उनके हर एक बातो को मानकर चलना पड़ता है नहीं तोह परिबार में झंझट होगा.और ससुराल में सास और बर के पिता के हर बात को मानकर चलना पड़ता है,थोडा काम में गड़बड़ी हुयी तोह आपने मा बाप को लेकर बुरे बाते सुनना पड़ता है फिर भी चुप बैठे रहती है क्यों की वोह एक लड़की है.इसीलिए हमारे देश में लडकियों को सबकुछ मानकर चलना सिखाया जाता है बच्चो से ही.पुरे ज़िन्दगी में लड़की किसी ना किसी के बातो में ही चलता है,तब वोह आपने बात को कबी सुनेगी?

या फिर लड़की को आपने बातो को सुनना माना है क्यों की वोह एक लड़की है,और कभी किसीके गर्लफ्रेंड और कभी किसीके पत्नी इसके लिए लडकियों के उपर किसी ना किसीका अधिकार हामेशा रहता है,इसीलिए लडकियों के खुदके लिए कुछ भी अधिकार नहीं बाचता है.हर वक्त किसी ना किसीके अधिकार लडकियों के उपर रहता है इसलिए उनके खुदके लिए कोई भी अधिकार जन्म नहीं ले पाता है .इसलिए लडकियों के इच्छा से कुछ भी नहीं हो पाता है,उनके इच्छा अगर रहता  भी है किसी चीजो को लेकर तोह वोह किसीको प्रकाश नहीं कर सकते है क्यों की वोह एक लड़की है.इसलिए लडकिया आपने इच्छा को बिसर्जन देकर दुसरे के सिह्हा को मान लेते है और खुस हो जाते है क्यों की वोह एक लड़की है.

हर एक लड़की की जीबन काहानी

दोस्तों उपर जोह मैंने बाताया यह बात आज भी हमारे देशो के बहुत सारे ऐसे छोटे छोटे गाँव है वोहाके लडकियों के लिए यह सासन लागु है.लेकिन धीरे धीरे हमारे देश में कुछ ही सालो में बहुत जादा बदलाब आया है और खासकरके लडकियो के भी अबदान कम अनहि राहा इस अग्रिम भारत को आगे बाढाने में.हर जायगा हर एक पद पार लडकियों के अबदान जोरदार राहा है.जिस वजह से आजके दिन में हमारे देश में लडकियों को भी उतना ही आजादी दिया जाता है जितना एक लड़के को मिलता है.और यह हमसबके लिए खुसी की बात है.क्यों ज़िन्दगी हम सभीको एक ही बार मिलता है उसमे हमें अपने तरह से अपने मर्जी से जीने का हक़ हम सभीको है इससे हमें मिलना चाहिए.कुछ कुछ खेत्रो में हो सकता है की आप गलत रस्ते पे जा रहे है तब सायदे आपको आपके माता पिता के बाधा आ सकता है क्यों क्यों की आपने माता पिता आपने बच्चो को कभी खाराप रस्ते पे जाने नहीं  दे सकता है.और अगर आप कुछ अछे के लिए कर रहे है तोह जरुर आपके परिबार पूरा आपके साथ देगा.उमीदे है आपको यह पोस्ट पसंद  आएगा.और अगर आप एक लड़की है तोह खुदमें एक गर्व महसूस कीजिये की जितने दिन आगे जाते रहेगा उतना ही जादा आजादी एक लड़के की तरह एक लडकियों को भी मिलते रहेगा.इस मतामत से जुड़े आपके मन में किसी भी तरह का सावाल/सुझाब रहता है तोह आप निचे कमेंट box का साहारा लेकर मेरे साथ साँझा कर सकते है.धन्न्य्बाद.

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम मिथुन है,और में इस वेबसाइट को 2016 में बानाया हु.और इस वेबसाइट को बानानेका मेरा मूल मकसद यह है की लोगो को इन्टरनेट के माध्यम से हिंदी में इन्टरनेट की जानकारी प्रदान करना.इसीलिए इस वेबसाइट का नाम Internetsikho राखा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.