Dmca क्या है?Dmca की पूरी जानकारी हिंदी में

2
Dmca क्या है?Dmca की पूरी जानकारी हिंदी में

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको Internetsikho में बहुत बहुत स्वागत है.आज हम इस पोस्ट में Dmca के बारे में बात करेंगे.जैसे Dmca क्या होता है?Dmca का इस्तेमाल कैसे और क्यों किया जाता है?Dmca इस्तेमाल करने के फायदे और नुकसान के बारे में बात करेंगे.तोह आप भी अगर Dmca के बारे जानना चाहते है तोह पूरी पोस्ट को पढ़े.

Dmca क्या है?Dmca की पूरी जानकरी

Dmca का शुरुवात कैसे हुआ था?Dmca united states का एक copyright act है.और इससे अमेरिका के राष्ट्रपति 1998 साल के 28october में bill clinton ने इससे लागू किया था.Dmca का full form  digital millennium copyright act है.Dmca के बनाने का मूल उद्देश्य यह था की किसी के द्वारा बनी हुयी internet के  चीजे चोरी करने से उससे कारबाई किया जाये इस act के तहत.Dmca audio,video,images,text contents को copy होने से protect करता है.

Dmca act उपोकोरोनो और सेबाये के उत्पादन और प्रसार का अपराधीकरण करता है और website के content को चोरी होने से बचाता है.और अगर कोई चोरी करता भी है तोह उसका रिपोर्ट करने में Dmca मदत करता है.Dmca के मदत से हम आपने आपने website के content को protect कर सकते है.और साथ ही साथ Dmca  के मदत से हम आसानी से track कर सकते है किसने हमारे content चोरी किया और उसके site/content delete करवा सकते है.

Dmca protection badge क्या होता है?protection badge की पूरी जानकारी हिंदी में

Dmca protection badge एक icon होता है जोह की हम आपने website page में place कर सकते है.इससे जोह भी आपके site के content चोरी करने जायेगा उसके मन में कही ना कही डर पायदा होगा.यानि की आर आपके website में Dmca icon लगा होगा तोह जोह भी आपके site से content चोरी करने जा रहा है उससे Dmca के बारे में याद आएगा और उस डर से वोह आपके कंटेंट चोरी नहीं करेगा.Dmca protection badge को हम आसानी से आपने wordpress site में plugin के मदत से इस्तेमाल कर सकते है.

और अगर हम एकबार Dmca protection badge आपने website में इस्तेमाल करते है तोह हमें उसके terms and conditions के उपर भी ध्यान रखना है.और यह badge एक website protection certificate को ही लिंक होना चाहिए ना की कोई और source.और अगर आप Dmca protection badge सही से इस्तेमाल नहीं कर पते है तोह कोई और लोग आपके site के उपर violation report कर सकता है.Dmca एक ऐसा platform है जहा आप आपने website को monitor कर सकते है.इससे आप आसानी से पता लगा सकते है कोन आपके कंटेंट चोरी कर रहा है.

Dmca protection badge कैसे इस्तेमाल करे?

Dmca protection badge आपने website में लगाने के लिए सबसे पहले आपको dmca.com पार जाना है.उसके बाद आपको 2 option दिखाई देगा free plan और pro plan अगर आपके पास थोड़े पैसे है तोह आप pro plans ले सकते है इसमें आपको जादा featurs मिलेगा free plans के तुलना में.

Dmca protection badge setup करनेका तरीका
  • dmca.com में जाकर DMCA SIGN UP पार क्लिक करे.
  • आपना पहला नाम लिखे
  • company का नाम/website का नाम लिखे
  • आपना surename लिखे
  • अपना email address डाले
  • फिर submit button पर क्लिक कर दीजियेउसके बाद आपके email id पर एक एक link आएगा उसपर क्लीक करके अपने account को verify कर लीजिये.
  • उसके बाद आपके सामने एक और page खुलेगा उसमे बहुत सारे dmca badge दिखने मिलेगा उसमे से आपको चुनना है.उसमें से आप कोई भी एक badge चुने और उससे copy करले और फिर उससे आपने website पार add करना है.
  • Dmca badge copy करने के बाद उस code को  आपने website के footer में add करना है.
  • और अगर आपके website blogger पार है तोह html widget में जाकर code को डाल देना है.
  • अगर आप wordpress का इस्तेमाल करते है तोह आप dmca plugin के मदत से आसानी Dmca badge का इस्तेमाल कर सकते है.
  • Dmca protection badge को आपने website में add करने के बाद आप Dmca badge पार क्लिक करके आसानी से जान सकते है की Dmca ने आपके website को protect किया है की नहीं.
  • जब भी आप Dmca badge पार क्लिक करते है तोह आपके सामने Dmca एक certificate दिखाई देता है.इससे आप समझ सकते है की आपके website Dmca protected है.
Dmca Notice कैसे भेजे?Dmca complaint कैसे करे?
  • आपका signature digitaly/physicaly रहना चाहिये
  • आपके copyrighted work की infringed की details रखना होगा.जिसमे आप original url का इस्तेमाल भी कर सकते है.
  • वही उस infringing material का url भी देना होगा.
  • आपके contact information
  • उसके साथ एक statement जोह की अच्छा से लिखा होना चाहिए जिससे एक बढ़िया कारन हो जिससे बिवास करने के लिए आपके copyright infringed हुआ है.
  • एक और statement जिसमे यह information होना चाहिए की आप सही है और आप authorized होते है copyright owner के लिए.
Dmca takedown क्या होता है?Dmca takedown की पूरी जानकरी

जब एक website से content remove कर दिया जाता है,उस content के owner के request पार और जब उससे लगता है की उसके content को चुराया गया है.यह एक well established,accepted,internet standard होता है की जिसे सभी website owners और internet service providers follow करते है.

Dmca takedown यह किसी भी content owner की right होता है Dmca takedown process करने के लिए.कोई भी owner ही content का उसके पास यह right होता है की एक takedown notice process करनेका वोह भी उस website owner या online service provider के खिलाफ जब content owner की property को पाया जाता है ऑनलाइन में वोह उसके बिना कोई permission के.

Dmca इस्तेमाल करने के फायदे  
  • अगर आपके website के content कोई copy करता है तोह आप उससे report कर सकते है.
  • अपनी website पार Dmca protection badge add करने पार हामारे हर एक page में Dmca certificate मिलता है.
  • Dmca certificate में उस page की पूरी जानकरी जैसे page title/url यह सारे चीजे रहता है.
  • Dmca के मदत से original content की पहचानना बहुत आसान हो जाता है.
  • इससे जोह भी आपके content को copy करता है उससे message भेज सकते है की आप यह content copy नहीं कर सकते है.
  • सरल भासा में Dmca को समझे तोह इसके मदत से आपके content को copy करने वालो के खिलाफ कारबाई कर सकते है.उसके खिलाफ कोई वकीलों के मदत से legal action ले सकते है.और उससे साजा दिला सकते है.
हामे Dmca notice मिलने पार क्या करना चाहिए?

इससे हमे जादा घबड़ाने की जरुरत नहीं है.अगर हम कभी गलती से किसी और के content same to same/copy हो जाता है और हम उससे पाने website में publish करते है तोह हमारे पास सबसे पहले एक Dmca takedown का एक notice आ सकता है.

उसके बाद आपको थोडा सोचना है की आप जोह भी content पोस्ट किया है अपने website पार वोह जन बुझकर दुसरे से copy किया है या फिर गलती से किया है.अगर आपको लगता है की हा मैंने जन बुझकर कॉपी करके यह पोस्ट डाला था जिसके वजह से आपको Dmca takedown notice मिला है तोह आपको वोह पोस्ट आपने वेबसाइट से हटा देना चाहिए.

इस बात का भी जादा chance रहता है की आपने content intentionally copy ना किया हो और उस copyrighted content को आपने वेबसाइट में पब्लिश कर दिया है बिना copyrights laws को समझे ही.ऐसे भी हो सकता है जिन्होंने यह permission लिया है उस कंटेंट को पोस्ट करेने के लिए वोह उस कंटेंट का real owner ही ना हो first place में .

और इस तरह के दिक्कत तब आता है जब हमें बहुत सारे sites चालाते है और उसमे पोस्ट लोग अलग अलग जायगा पे शेयर करता है तब इसमें दिक्कत आता है.लेकिन आपके website के सुरक्षा के लिए आप Dmca notice को हलके में ना ले और अगर कोई कंटेंट में इस तरह के notice आता है और आपको लगता है की हां यह copy कंटेंट है तोह आप उससे अपने वेबसाइट से हटा दे.

दोस्तों इस पोस्ट में मैंने आपको बताया है Dmca क्या है?Dmca कैसे इस्तेमाल करे?Dmca protected badge क्या है?Dmca takedown इस तरह Dmca से जुड़े हुए आपके मन के सारे सावालो के जवाब हम इस पोस्ट में देनेके पूरी प्रयास किये है.उम्मीद है की आपको यह जानकरी पसंद आएगा.और इस जानकरी से जुड़े हुए आपके कोई सावाल/सुझाब रहता है तोह आप निचे कमेंट box में मेरे साथ शेयर कर सकते है.धन्यबाद.

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम मिथुन है,और में इस वेबसाइट को 2016 में बानाया हु.और इस वेबसाइट को बानानेका मेरा मूल मकसद यह है की लोगो को इन्टरनेट के माध्यम से हिंदी में इन्टरनेट की जानकारी प्रदान करना.इसीलिए इस वेबसाइट का नाम Internetsikho राखा गया है.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.