KISI DUSRE KE BAATEIN MEIN APNE ICHHA KO NA 6ORE

0

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको internet sikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों आज में आपलोगों को एक बात बाताना चाहता हु की यह जोह मेरा साईट है इसमें सिर्फ आपको रियल टॉपिक के बारे में ही बाताया जाता है,क्यों की मुझे रियल लाइफ से जुड़े हुए पोस्ट लिखने में ही मजा आता है.में आशा करूँगा आपको भी रियल टॉपिक पढने में मजा आता होगा.दोस्तों आज जोह पोस्ट लिखने जा राहा हु यह जादातर आपने साथ  हुआ  है या हुआ होगा.आपने जीबन में आप खुद भी देखे होंगे की कोई भी काम आगर आप करना चाहते है और आप सबसे पूछते है की यह काम करू या नहीं ?उस समय आपको यह भी जरुर सुनने को मिला होगा की यार ह काम मत कर/यह तेरे बस के बात नहीं है /यह काम कोई और पहले ही करके छोर दिया है इत्यादि इत्यादि..

दुसरे के बातो से आपने इच्छा को ना छोरे 

तब आपको बुरा लागता होगा और आप confused होकर सोचने लाग जाते है की क्या करू.में आपको एक ही बात बाताना चाहता हु की सबसे पहले आपनी मन की सुनो.चाहे कितना भी कोई कुछ ना बोले आपके उस बात के अपोजिट में.आपके मन की बात आपके शिवा कोई आछे तरह से नहीं समझ सकता है.यह जोह कुछ आपने लोग बड़े बड़े बातें करते है की मेरे से जादा कोई नहीं जानता है तेरे मन में क्या है येह्सब बातें तोह सिर्फ सुनाने के लिए ही आछा लागता है और कुछ नहीं.तोह सबसे पहले आपने मन की बात सुने और जोह भी करनेका आप decission लेते है वोह आपने मन से ही लीजिये.और उसमे पूरा फोकस कीजिये,जरुर आपके मन की बात एकदिन पूरा होगा.और हा में इस छोटी से उम्रो में बहुत सारे motivation story/books/ज्ञानी बकती की जीबन काहानी के बारे में पढ़ चूका हु और आप बिस्वास नहीं करोगे ऐसा कोई नहीं मिला है  जिसके  सफलता के लिए  उनके दोस्त/परिबार के  सपोर्ट से  मिला हो. तोह आप भी आपने सपने को ना तोड़े किसीके बातो में आपने इच्छा को ना छोरे.

‘किसी दुसरे के कहने पार आपने मन की 

बातो को सुनना बंध ना करे ‘

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.