मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार कब और किसने किया था?

मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार कब और किसने किया था?

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको internetsikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों आजके समय में हम सभीने मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल करते ही है.और आजके समय में देखा जाये तोह मोबाइल के भी अलग अलग तरह के बहुत सरे vareity मजूद है.और देखा जाये तोह आजके युबायो के लिए मोबाइल फोन खरीदना उनके लिए लिए एक आम बात बन गया है.क्यों कि अगर आपके पास एक smartphone रहेगा और उसमे internet connection रहेगा तोह  आप काफी आसानी से आपके मोबाइल फ़ोन से बहुत सरे काम कर सकते है.लेकिन हमारे लिए दुःख की बात यह है की जोह चीज हमारे लिए हर समय काम आरहा है उसी चीज के बारे में हमें जादा कोई जानकारी नहीं रहता है.जैसे मोबाइल फ़ोन का अबिस्कार किसने किया? और मोबाइल फ़ोन बनाने के पीछे क्या कारन था जिस वजह से इससे अबिस्कार किया गया था?मोबाइल फ़ोन का मतलब क्या है और इससे इस्तेमाल करने से हमें कितना फायदा और कितना नुकसान है?अगर इन सरे सवालों के जवाब आपको पता है तोह यह जानकर हमें खुसी है की आपने  मोबाइल फ़ोन के बारे में काफी जानकारी प्राप्त कर लिया है.और आप अगर मोबाइल फ़ोन के बारे में जादा कुछ नहीं जानते है  और भी गहराई से मोबाइल फ़ोन के बारे में समझना चाहते है तोह यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही खास रहनेवाला है.

मोबाइल फ़ोन क्या है?

मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार कब और किसने किया था?
image source by google

दोस्तों मोबाइल फ़ोन तोह आजके समय में हम सभीने इस्तेमाल करते है.इसीलिए आप जानते भी होंगे इससे हमें क्या क्या fetaures मिलता है.फिर भी में आपको मोबाइल फ़ोन के बारे में काफी सरल तरीके से समझाने कौशिश करेंगे की असल में मोबाइल फ़ोन क्या है.

  • आजके समय में मोबाइल फ़ोन ही एक ऐसा जरिया है जिसमे हमारे से दूर रहते हुए बेकती से हम आपस में कॉल करके उनसे बाते कर सकते है.चाहे वोह बेकती दुनिया के किसी भी कोने में ही क्यों ना हो फिर भी आप मोबाइल फ़ोन के मदत से उनसे बाते करके उनके साथ जुड़े रह सकते है.
  • ऐसे देखा जाये तोह शुरुवात में टेलीफोन का अबिस्कार किया गया था लेकिन इसका आकार काफी बड़ा होने के वजह से उससे समय के साथ साथ और भी user friendly बनानेका प्रयास लगा हुआ था.क्औयों की telephone को कहिपे भी हम ले नहीं जा सकते थे .और इससे देखते हुए  धीरे धीरे  टेलीफोन technic को और भी छोटे आकार के और नए features के साथ तैयार किया गया और उसके बाद उसका नाम करन फ़ोन यानि की जिससे हम मोबाइल फ़ोन कहते है.
  • ऐसे देखा जाये तोह telephone और मोबाइल फ़ोन में हमें जादा कुछ अंतर तोह देखने नहीं मिलेगा.दोनों का काम है communication करना और यह एक तरह का comminuaction device है जिसके मदत से हम एक बेकती से दुसरे बेकती के साथ आपस में virtually तरिके से बाते कर सकते है.
  • मोबाइल फ़ोन एक ऐसा device है जिसमे किसी भी प्रकार के आवाज को यानि की human voice को electronic signals में convert करता है जोह केवल electromagnatic तरंग जैसे पक्रिया के माध्यम से एक दुसरे बेकती के आवाज हम सुन सकते है.

 

 

मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार सबसे पहले कोन और किसने किया  था?

मोबाइल फोन का आबिस्कार सबसे पहले 1973 में 3rd april  को Martin Cooper ने किया था.और आजके समय में देखा जाये तोह यह महान बेकती के वजह से ही हम smartphone को उंगलियों से अलग अलग features का लाभ उठा रहे है.mobile phone के आजतक के इस जायगा तक पहुचने के लिए काफी सरे देश बिदेशो के बैगानिको के research के द्वारा सम्ब्हब हो पाया है.लकिन यह telephone device सबसे पहले काफी बड़ा size के था लेकिन इससे और भी छोटे device बनानेका पक्रिया में Alexander Graham Bell का ही हाथ है.

मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार कब और किसने किया था?
image source by quora

और उसके बाद से telephone को mobile phone के रूप में प्रचलित किया गया है जोह की काफी आधुनिक और portable तरीके से तैयार किया गया है.और भी बहुत सरे अलग अलग देशो के बैगानिको द्वारा telephone को और भी छोटे portable device बनानेका प्रयास कर रहा था लेकिन motorola के enginner martin cooper ने सबसे पहले इससे सफलता पुर्बक रूप में जीत हासिल किया था.

और मार्टिन कूपर ने ही दुनिया के पहला फोएँ आबिस्कार करने वाला बेकती बन गया था और motorola में join कर लिया था.मार्टिन कूपर एक अमेरिकन थे जिन्हें telecome industry को ऊपर काफी जादा interest था .और अपने interest के ऊपर काफी सालो से महनत करते ही आरहा था और finnaly मार्टिन कूपर ने दुनिया के सबसे पहला फ़ोन आबिस्कार किया था जोह की 1.1 किलोग्राम का था.और इससे एकबार चार्ज करने पे 30 मिनिट तक चालू रह सकता था.और इस फ़ोन को फुल चार्ज होने में 10 घंटे समय लगता था.और उस समय के बात करे तोह यह फोन के कीमत 2700 डॉलर का था जोह की आज के समय का 198454 रूपया का होगा.

सबसे पहला मोबाइल फोन का क्या नाम था  और कोनसा कंपनी ने बनाया था?

ऐसे आपलोगों में से भी कुछ लोग जानते होंगे या फिर सुने होंगे की सबसे पहला मोबाइल फ़ोन motorola dynatac कंपनी ने बनाया था.और इस फ़ोन का साइज़ 9 इंच का था और इसका वजन 1 kg के आसपास था.और इसको बनानेवाले का नाम था मार्टिन कूपर और इनके इस project को आगे ले जाने के लिए mobile call industry और telecom industry का शुरुवात हुआ था.

मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार कब और किसने किया था?
image source by yahoo finance

मार्टिन कूपर के इस प्रोजेक्ट को मोबाइल फ़ोन के सुबिधायो को जोड़ने का पूरी प्रयास किया जा राहा था और साथ में celluer network को और भी बेहतर बनानेका प्रयास किया जा रहा था.और दश साल के महनत के बाद 1983 में motorola ने कुछ limited mobile phones बाजार में लांच किया जिसका नाम था motorola dynatac 8000x .और इस फ़ोन का कीमत उस समय 3995 डॉलर था यानि की आजके समय में उसका हिसाब लगाया जाये तोह 2,94,060.36 रुपया का था.और यह limited phone में limited features मजूद था जैसे इस फ़ोन के जोह battery backup था वोह सिर्फ 6 घंटे का था यानि की एकबार फुल चार्ज करने के बाद 6 घंटे तक उस फ़ोन को हम इस्तेमाल कर पते थे.और उस फ़ोन में सिर्फ 30 contact ही save करनेका space था.

सबसे पहला मोबाइल टेलीफोन की सेवा कहा और कब दिया गया था?

दुनिया के सबसे पहला मोबाइल टेलीफोन सेवा 1926 में deutsche reichbahn (german national railway)के first class passangers को प्रदान किया गया था.जोह की berlin और hamburg के बिच सफ़र कर रहा था.

सबसे पहला मोबाइल फ़ोन से कॉल कब और कहा किया गया था?

सबसे पहला मोबाइल से कॉल 1964 में chicago में एक कार के radiotelephone किया गया था.और उस समय काफी जादा मात्र में radio frequencies उपलब्ध था इस वजह से सर्विस बहुत ही जल्द पुरे प्लानिंग और capacity के साथ मार्किट में लांच करने में सफल रहा है.

सबसे पहला automated mobile phone system का प्रचलन कब और कहा किया गया था?
मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार कब और किसने किया था?
image source by pinterest

सबसे पहला automated mobile phone system का सेवा 1956 में स्वीडन में शुरू किया गया था.और शुरुवात में यह सिर्फ private vehicles में इसका setup किया गया था.और इस सिस्टम में vacuum tube technology का इस्तेमाल किया जाता था और साथ में rotary dial भी रहता था  इसी वजह से automated mobile phone system का वजन 40 kg पार चला गया था.

मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार कब और किसने किया था?
image source from wikipedia
मोबाइल फ़ोन आबिस्कारक मार्टिन कूपर की जीबन कहानी हिंदी में 

दुनिया का सबसे पहला मोबाइल फ़ोन आबिस्कारक मार्टिन कूपर का जन्म 1928 साल में 26 दिसम्बर में अमेरिका के शिकागो  में हुआ था.मार्टिन कूपर ने 1957 में illinois institute of technology से इलेक्ट्रिकल enngenering में मास्टर डिग्री प्राप्त किया था.और 1954 से मार्टिन कूपर ने मोटोरोला के साथ काम करना शुरू किया और 1970 में उन्हें कंपनी में exuctive के पद के लिए select कर लिया गया था.

मार्टिन कूपर ने अपने कंप्यूटर प्रसिक्षण को छोड़ने के लिए सेल फ़ोन आबिस्कार करने के लिए आग्रह जताया था.और मार्टिन कूपर के दिमाग में मोबाइल फ़ोन बनानेका आईडिया star track tv ZOO को देख के आया था ज्सिमे एक किरदार था जिसमे एक दुसरे बेकती से छोटे device के माध्यम से एक दुसरे से बात कर पता था.और इससे देखने के बाद ही मोबाइल फ़ोन बनानेका आईडिया दिमाग में आया था और सफलता भी मिले.

दोस्तों इस पोस्ट में मैंने आपके साथ शेयर किया है की मोबाइल फ़ोन का आबिस्कार कब और किसने किया था? आशा करता हु की इस पोस्ट को पढने के बाद आप अक्फी आसानी से समझ सकते है की मोबाइल फ़ोन का शुरवात सबसे पहले किस तरह से और कहा से हुया था.और इस जानकारी से जुड़े हुए आपके मन में किसी भी तरह के सवाल/सुझाब रहता है तोह आप निचे हमारे साथ कमेंट box में साँझा कर सकते है.धन्यबाद.

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम मिथुन है,और में इस वेबसाइट को 2016 में बानाया हु.और इस वेबसाइट को बानानेका मेरा मूल मकसद यह है की लोगो को इन्टरनेट के माध्यम से हिंदी में इन्टरनेट की जानकारी प्रदान करना.इसीलिए इस वेबसाइट का नाम Internetsikho राखा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.