SHARES क्या होता है ?SHARES की पूरी जानकारी

दोस्तों आज में आपको बाताऊंगा की shares क्या होता है ?दोस्तों आप अगर नए नए stocks मार्किट में तर्डिंग या इन्वेस्टिंग करने के लिए सोच रहे है या फिर कभी करना चाहते है .तोह आपको यह सावाल का जवाब जानना जरुरी है की यह shares होता क्या है ?आप कैसे कोई shares के  खरीदारी या बिकवाली कर सकते है ?तोह येह्सब आगर  आप भी जानना चाहते है तोह आपको यह पोस्ट को ध्यान से पढना जरुरी है क्यों की में इस पोस्ट के माध्यम से shares के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करने वाला हु .

shares क्या होता है ?

दोस्तों shares का मतलब होता हिस्सा ,अगर आप किसी कंपनी के shares को खरीदकर आपने पास राखते है उस कंपनी का हिस्स्सा आप बन जाते है .hindi में शेयर को अंश काहा जाता है और sharehoders को अन्शाधारक काहा जाता है .share मार्किट में लिस्टेड आप भी कोई कंपनी के shares को खरीदकर उस कंपनी का हिस्सा या मालिक बन सकते है .आप जितने जादा उस कंपनी के shares खरीदारी करेंगे उतना ही जादा हिस्सा आपके उस कंपनी में रहता है .अगर कोई भी कंपनी डिविडेंड या बोनस shares का एलान करते है तोह उसका मुनाफ़ा उससे मिलता है जोह उस कंपनी के हिस्से लेकर पहले से shares खरीदकर राखे है .

shares लिस्टेड क्या देखकर किया जाता है ?

दोस्तों जैसे आप सभी को मालुम है की किसी भी कंपनी को शुरुवात करने के लिए बहुत जादा पैसा का जरुरत पड़ता है और इसका इंतज़ाम करना भी बहुत  मुश्किल होता है .तोह इतने जादा पैसा कोई एक आदमी तोह दे नहीं सकता है .तोह उसके लिए कंपनी ने ipo लाते है जिससे  बहुत आसानी से छोटे से बड़े पूंजी वाले लोग  उस कंपनी में पैसा लागाकर उससे खरीद सकते है .और आप जब उस company के शेयर खरीदते है तोह आप भी उस कंपनी का अंश बन जाते है .और उस कंपनी में कुछ भी मीटींग या कुछ changes होता है तोह सबसे पहले उस कंपनी के शरेहोल्देस्र को मेल में बाताया जाता है .और आप आगर उस कंपनी के shareholders होते है तोह आप भी उस कंपनी के हिस्से बन जाते है और आपको अन्दर से एक मालिक मालिक फील होता है उस कंपनी का .

येह्सब posts के बारे में भी जाने 

*paypal के बारे मं पूरी जानकारी पाने के लिए इस पोस्ट को पढ़े

*second हैण्ड phone खरीदने से पहले क्या क्या आपको ध्यान राखना चाहिए जानिए इस पोस्ट में

*आपका अगर कोई भी वेबसाइट है तोह इस पोस्ट से चेक कर सकते अहि की आपके साईट safe है या नहीं

और shares कंपनी जब लिस्टेड होता है तोह आप आपना shares को बेचकर मुनाफ़ा कामा सकते है .और इसके अलावा लिकुदिट्री के लिए भी खरीदारी और बिकवाली चलते रहता है जिससे शेयर के प्राइस में उतार चदाब होते रहता है .और यह शेयर मार्किट का आसली नियम यह है की जिस shares का मांग जादा होता है तोह उस share s का दम बढ़ता है .और जिस shares का मांग नहीं होता है उस shares को shareholders ने बेचना चाहते है ,तब उस शेयर का दाम घट जाता है .

जोग लोग कंपनी शुरू करने वक्त उस कंपनी के लिए पूंजी लागाता है उससे उस कंपनी का promoters काहा जाता है .promoters उस शेयर में से 1 हिस्सा आपने पास राख लेते है और बाकी हिस्सा पाब्लिक के लिए पेश कर देते है .और जोह हिस्सा promoters का होता है वोह share s मार्किट में trade नहीं होता है .मार्किट में वोही हिस्सा trade होता है जोह हिस्सा पब्लिक के लिए पेश किया गया है .

और shares में जोह लोग निवेश करते है उससे निवेशक काहा जाता है .और जोह लोग हर दिन trade करते है उससे trader काहा जाता है .लेकिन कंपनी के लिए  आसली  निवेशक  वोही होता है उसके shares 3 इयर्स से जादा hold राखते है .

intrady trading क्या होता है ?

दोस्तों जोह shares को  आप मार्किट ओपन होने के बाद ही खरीदारी या बिकवाली करते है और उसी दिन उस shares निकाल देते है मार्किट बध होने से पहले और जोह भी फ़ायदा या नुक्सान होता है उससे आप बुक कर लेते है उससे intrady trading  काहा जाता है .दोस्तों मेरे हिसाब से आप अगर नए नए इस मार्किट में आते है तोह आपको intrady trading में धयान ना दे तोह ही आपके लिए faideman है .क्यों की intrady trading में आपको जादा से जादा नुक्सान ही होता है क्यों की आपको intrady में कोई भी स्टोक्स का  सही मोवमेंट पकड़ नहीं सकते है .और intrady trading में  आप भी जोह भी shares buy या सेल किया है उससे मार्किट बध होने से पहले ही आपको क्लियर करना पड़ेगा चाहे वोह में हो या मुनाफ़ा में .और आप जोह भी broker के थ्रू trade करते है उससे भी आपका जादा brokrage charges देना होगा क्यों की जितने जादा बार आप buy सेल करेंगे उतने जादा बार आपको brokrage charges चुकाना पड़ेगा .

येह्सब posts को भी पढना ना भूले 

*demat अकाउंट क्या होता है जानिए इस पोस्ट में बिस्तार से

*ladkiyo को कैसा लड़का जादा पसंद करते है जानिए इस पोस्ट के माध्यम से

*किसी भी गाड़ी या bike के number से ही उस बाहन के मालिक के बारे में कैसे पता करते है जानिये इस पोस्ट में

investor या निवेशक क्या होता है ?

दोस्तों जरुरी नहीं है की आप जोह भी सोडे करेंगे वोह सब प्रॉफिट में ही रहेगा ,तोह जोह छोटे टाइम के लिए निवेश करते है वोह shares के प्राइस को गिरावट आते हुए देखकर लोस बुक करके निकाल जाते है .और आप अगर किसी कंपनी में निवेश करना छाते है तोह उस कंपनी के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करे फिर उस कंपनी में निवेश करे .और आगर एकबार किसी भी shares या कंपनी में निवेश करते है तोह बार बार आपके पोर्टफोलियो ना देखे तोह ही आपके लिए faideman रहेगा .और जादा उससे देखेंगे तोह उससे थोडा सा मुनाफा में ही निकाल जाने का मन करेगा /.तोह आप जब भी किसी कंपनी में निवेश करते है तोह एक plan के साथ निवेश करे और जादा से जादा long टर्म के लिए ही plan बानाए .तोह ही आप इस मार्किट से मुनाफ़ा कामा सकते है .

दोस्तों मुझे उम्मीद है जोह लोग नए नए इस मार्किट में आना चाहते है उसके लिए यह पोस्ट बहुत ही faideman साबित हो सकते है .और आप अगर इस मार्किट में पहले से ही जुड़े है तोह आप अगर यह पोस्ट को थोडा ध्यान से समझेंगे तो आपके trading या इन्वेस्टिंग plan में जरुर कुछ ना कुछ बदलाब आ सकता है .और trading या  निवेश में नुक्सान होने से रोक सकते है .

दोस्तों यह जानकारी आपको कैसा लागा है आप मुझे जरुर बाताना कमेंट बॉक्स में कमेंट के जरिये .और इस पोस्ट से रिलेटेड आपके मन में कोई बी सवाल आता है तोह आप मुझसे पूछ सकते है में जरुर आपके मदत करने का कौशिश करूँगा .और इस पोस्ट को जादा से जादा अपने trading  फ्रेंड्स के साथ जरुर शेयर करे ताकि उन्हें इस shares मार्किट के बारे में सही जानकारी मिल सके और नुक्सान करने से बंच सके .और ऐसे ही नए नए जानकारी इन्टरनेट के माध्यम से जान ने के लिए जुड़े रहिये internet sikho  के     साथ क्यों की यहाँ हर दिन आपको एक नए जानकारी के बारे  में बाताया जाता है .जिससे आपको हर दिन  कुछ ना कुछ सिखने को जरुर मिलेगा .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.