लडको के शर्ट के बटन डाये साइड में और लडकियों के शर्ट के बटन बाए साइड में क्यों रहता है?

लडको के शर्ट के बटन डाये साइड में और लडकियों के शर्ट के बटन बाए साइड में क्यों रहता है?

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको internetsikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों कही ना कही कभी आपके मन में भी इस तरह का सावाल उठे होंगे की लडको के शर्ट के बटन डाये साइड में और लडकियों के शर्ट के बटन बाए साइड में क्यों रहता है? इसके पीछे ऐसा क्या कारन छुपा है?इसे जुड़े ऐसा क्या बाते छुपे है जोह हम नहीं जानते है.चलिए फिर आज हम इस पोस्ट में यह बाताने का कौशिश करेंगे की लडको के शर्ट के बटन दाये साइड में और लडकियों के शर्ट के बटन बाए साइड में रहने के पीछे क्या कारन है.और साथ साथ उस बातो से जुड़े उदारहण भी देंगे यानि की क्यों ऐसा किया जाता है उस बारे में भी चर्चा करेंगे.

लडको के शर्ट के बटन डाये साइड में और लडकियों के शर्ट के बटन बाए साइड में क्यों रहता है?

लडको के शर्ट के बटन डाये साइड में और लडकियों के शर्ट के बटन बाए साइड में क्यों रहता है?

नापोलियोंन बोनापार्ट जोह की फ्रेंच के statesman militry था उनके हर एक चित्र में उनके दाए
 हाथ उनके कोट  के अन्दर रहता है.और यह तभी होता है जब कोटके बटम बाए दिक से दाए तरफ खोलना
 होता है.सुना है की लडकियों के दाए हाथ ठीक ऐसे ही रहता था.और ईसि कारन के लिए लोग नेपालियोन को
 लेकर मजाक उड़ाता था.और यह बात नेपालियोन के कान में भी गया था.और इसी वजह
 से उसके निर्देश को मानकर लडकियों के शर्ट के बटन बाए तरफ लागाया गया है.
  • और लडको जादातर खुदके शर्ट खुद ही पहनता था.चाहे वोह राजा हो या महाराजा.लेकिन सम्पन्न परिबार के लडकियों के लिए दाशी रहता था.वोही लोग लडकियों को शर्ट पहना देता था.क्यों की उस दाशी में से जदातर  दाएहाथी बोलकर ही माना जाता था.और  उनलोगों के सुबिधा   के लिए ही लडकियों के शर्ट के बटन बाए तरफ रखा गया है.
  • पहले के जामाना में राजा हो या सेना उनको दाए हाथ में तलवार पकड़ना होता था.और खाली रहता था बाए हाथ.और बाये हाथ से बटन खोलनेका लागानेका सुबिधा के लिए ही लडकियों के शर्ट के बटन दाए साइड में लगाया जाता था.
  • और स्त्रियों के लिए बच्चे भी गोद में लेना होता है और तब उनके दाए हाथ खाली रहता है.जैसे बच्चे को दूध पिलाने के समय दाए हाथ से बटन खोलता है.और उस समय दाए तरफ बटन रहने से खोलने में दिक्कत होता था.उससे ध्यान रखकर बाए तरफ ही बटन लागाया गया था.

 

 

  • और पुरुष को घोडा लेकर भागना होता था और रस्ते के बाए तरफ से ही जाना होता था.जिससे दाए तरफ उन्हें तलवार चालाने में सुबिधा हो.और वोह तलवार उनके कमरों में अटका हुआ रहता था.और तलवार निकालते समय वोह निकाल ना जाये या फिर कोट के बटन पार अटक ना जाए इसके लिए कोट के बटन दाए तरफ लागाना होता था.और जब लड़की घोड़े पे चढता था या फिर अभी बायिक बैठता है तोह दोनों पाए उनके साधारनत बाए तरफ रहता है.और शर्ट के अन्दर जिससे हावा ना घुशे उसके लिए शर्ट के बटन बाए साइड में बैठाया जाता है.
  • और एक तत्य यह है की लडकियों लडको से किसि भी तरह से कम नहीं है इससे दिखाने के लिए लडको जैसे ही कपडे पहनता था.और यह परिकल्पना को देखकर ही लडकियों के शर्ट के बटन  बाए तरफ बैठाया गया है.
  • पहले के दिन में एक दरजी को लडको लडकियों के शर्ट बनाना पड़ता था.और लडको लडकियों के शर्ट के अदल बदल हो जाने के डर से यह बबोस्था लिया गया था.

दोस्तों इस पोस्ट में मैंने आपको यह बाताने का कौशिश किया है की लडको के शर्ट के बटन डाये साइड में और लडकियों के शर्ट के बटन बाए साइड में क्यों रहता है? इसके पीछे क्या कारन है?इस जानकारी से जुड़े हुए आपके मन में किसी भी तरह के सावाल/सुझाब रहता है तोह आप निचे कमेंट box का साहरा लेकर मेरे साथ शेयर कर सकते है.धन्यबाद.

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम मिथुन है,और में इस वेबसाइट को 2016 में बानाया हु.और इस वेबसाइट को बानानेका मेरा मूल मकसद यह है की लोगो को इन्टरनेट के माध्यम से हिंदी में इन्टरनेट की जानकारी प्रदान करना.इसीलिए इस वेबसाइट का नाम Internetsikho राखा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.