हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको Internetsikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों आजके इस पोस्ट के टाइटल को देखकर आपको थोडा confusion हो सकता है और लाग सकता है यह में क्या बाताने जा राहा हु.दोस्तों हां इस पोस्ट को में आपलोगों के साथ इसीलिए शेयर कर राहा हु क्यों की यह चीजे सबके जीबन में बहुत जरुरी है की वोह आपने परिबार family के साथ समय बिताए.और ऐसे आपलोगों जोह पहले से internetsikho के साथ जुड़े हुए   है उनलोगों को पाता होगा की यहाँ हमेशा लोगो को हर एक तरह से लोगो को मदत करने का पूरी प्रयास किया जाता है चाहे कोई भी टॉपिक पे क्यों ना हो.तोह इसीलिए आज में आपको बाताऊंगा की क्यों अपने परिबारो के साथ समय बिताना जरुरी है.

आपने family के साथ समय बिताना जरुरी क्यों  है?

दोस्तों ऐसे आजकल के यह digital life में सब बहुत बय्स्त होते है,हामसबको real life से जादा digital life से पयार होने लाग गया है.लेकिन क्या हामसब यह जोह कर रहे क्या यह सही कर रहे है?दोस्तों एकबार में एक प्राइवेट कंपनी में काम करनेवाले आदमी से पूछा था की आप आपने family के साथ कितने समय निभाते है?

तोह उसने मुझे बाताया की में सुभे 10 बाजे को job पे जाता हु और शामको 7 बाजे job से छुटता हु,और 8 बाजे तक में घर में पहुचता हु.और उसके बाद में आपने family के समय काटाता हु.

तोह दोस्तों जारा सोचिये की उस आदमी ने अगर सुभे 10 AM-8 PM  तक job पे रहेगा तोह दिन के 11 घंटे उसके ऑफिस में ही निकाल जाता है.और एक आदमी को 7/8 घंटे का नींद का जरुरत पड़ता है.और फिर समय बाचता है उनके पास 5 घंटे सिर्फ ,और उसमे से भी उनके office के friends के साथ whatsapp,facebook में बाते करते करते ही निकाल देते है.तोह जारा सोचिये की आपके पास आपके family के बारे में सोचने या family के साथ समय निभाते हुए सिर्फ 4/5 घंटे ही दिन में मिला.और सिर्फ 35 घंटे ही समय दे रहे आपने परिबार को एक हप्ते में.

लेकिन आप अगर ऐसे करते रहेंगे तोह क्या आपका family आपसे खुस हो पायेंगे क्यों की देखिये एक आप  के family में आपके पति या पत्नी या सायेद आपके बच्चे भी होंगे.और उनलोगों के साथ आप अगर ठीक से समय नहीं दे पाते तोह कैसे आपसे उनलोग खुस रहेंगे?

और यह टॉपिक को लिखने का मूल मकसद यह है की दोस्तों आप कही पार भी हो job के कारन ब्यस्त या कुछ और काम से ब्यस्त रहते हो लेकिन कम से कम आपने family के साथ भी समय बिताना बहुत हगी जरुरी है. क्युकी कोई आपके लिए इन्तेजार करते होंगे आपके घर में सायेद आप नहीं जानते है चाहे वोह आपके पति/पत्नी या बच्चे भी हो सकता है.और आप ऐसे ही दिन  8/9 घंटे ऑफिस के बाद अगर फ्री समय भी आप facebook/whatsapp में बाते करके निकाल देते है तोह यह यह बहुत ही गलत काम करते जा रहे है आप.

तोह कृपया करके जारा digital life से बाहर आनेका प्रयास करे.क्यों की digital life में आपको  कुछ नहीं मिलनेवाला है,ना पयार ना दोलत.लेकिन आपका family ही आपका पयार है,तोह आपके पयार के साथ थोडा जादा समय निभाके देखिये की आपको कितना खुसी महसूस होगा.और आपके परिबार भी कितना happy रहेगा हामेशा अगर ऐसा ही चलते रहेगा तोह आपके जीबन में कभी दुःख का एहसास ही नहीं आएगा.

तोह दोस्तों आप यह topic कैसा लागा आप जरुर मुझे निचे कमेंट box में बाताये ताकि आगे से में और ऐसे ही helpfully जानकारी आपलोगों के साथ शेयर कर सेकु.और इस पोस्ट से जुड़े आपको कोई सावाल रहता है तोह आप मेरे साथ शेयर कर सकते है धन्यबाद.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.