MOVING AVERAGE CONVERGENCE DIVERGENCE (MACD)KYA HAI?

0

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको internet sikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों आज में इस पोस्ट में आपको बातानेवाला हु की MOVING AVERAGE CONVERGENCE DIVERGENCE क्या है और इसको  हामे कैसे पहचानना है और इससे stock के भाव में क्या प्रभाब पढता है उसके बारे में भी बात करेंगे.

MOVING AVERAGE CONVERGENCE DIVERGENCE की पूरी जानकारी

यह एक बहुत ही आछा पैटर्न है जोह movement में होनेवाला फेरफार दिखाता है और हर कोई ट्रेंड स्थापित रहेगा या नहीं इसका भी संकेत देता है.यह भी एक सुस्त पैटर्न है इसके लिए वोह संकेत थोडा जादा देते है.

MACD कैसा दिखता है?

macd में 2 line होता है.एक फ़ास्ट लाइन और दूसरी slow लाइन.यह दोनों लाइन मुख्य 0 के स्थर के उपर निचे घूमते हिये नजर आता है.जिसके अभ्यास पार से ट्रेंड की स्थापना और खरदी या बिक्री का संकेत हासिल किया जा सकता है.

MACD का time frame क्या है?  

(12,25,9)का setting प्रमुखरूप से सभी charting software में दिखाई देता है.अनुभब के अनुसार इसमें फेरफार किया जा सकता है.

MACD का इस्तेमाल कैसे किया जाता है?

macd में 2 लाइन होता है.एक फ़ास्ट लाइन और एक slow लाइन.यह दोनों line जब एक दुसरे के उपर की या निचे की दिशा में काटती है तब खरीदी और बिक्री के संकेत मिलता है.उसी तरह से यह दोनों line 0 के base लाइन के उपर या निचे की और घूमते हुए दिखाई देता है जिसके अभ्यास पार से बिबिध संकेत हासिल किया जा सेकता है.

MACD बनने का क्या संकेत दिखाई देता है?

जब फ़ास्ट लाइन slow लाइन के उपर की दिशा में काटती है तब खरीदी का संकेत मिलता है.उसी तरह से जब फ़ास्ट लाइन slow line के निचे की दिशा में काटती है तब बिक्री का संकेत मिलता है.

जबतक फ़ास्ट line slow लाइन के उपर की दिशा में होते है तबतक चालू ट्रेंड स्थापित रहता है ऐसा काहा जा सकता है.उसी तरह से जब fast लाइन slow line के निचे होते है तब चालू मंदी की दिशा की ट्रेंड स्थापित होते है ऐसा काहा जा सकता है.जबतक दोनों लाइन घूमकर एक दुसरे के बिरुद्धो दिशा में काटती नहीं तबतक ट्रेंड रेवेर्सल नहीं आता है.0 यह base लाइन है जिसके उपर दोनों लाइन हो तोह मजबूत तेजी हो सकता है.उसी तरह से दोनों लाइन 0 के निचे हो तोह मजबूत मंदी हो सकता है.

0 के उपर ट्रेंड reversal का संभाबना होता है .साथ ही 0 के निचे भी मंदी में से तेजी की दिशा के ट्रेंड रेवेर्सल आ सकता है.पार सभी समय तेजी की स्थिति तभी स्थापित हो सकते है जब दोनों लाइन 0 के उपर निकालकर स्थापित होता  है.तबतक 0 के निचे दिखनेवाला बढ़ोतरी दूध के उबल की तरह हो सकता है.macd जब double top बनता है या double buttom बनता है तब शेयर्स या बाजार में ट्रेंड रेवेर्सल की संभाबना अधिक होता है.उसी तरह से बढनेवाला buttom मजबूती का संकेत देता है और घटनेवाला top मंदी का संकेत देता है.

macd में किसतरह का range होता है?

अलग अलग चार्ट के अभ्यास पार से दिखाई देता है की macd पहले निश्चित स्थर पार support लेता है या resistance देता है.यह स्थर अलग अलग चार्ट के लिए अलग हो सकता है.समय के अनुसार एक ही चार्ट पार macd की range बदलते हुए नजर आता है.

कुछ शेयर्स जैसे की rs 25-30 तक की range वाले शेयर्स में macd 5 से 50 की range बनते हुए नजर आता है.उसी तरह से 1000 से 5000 rs वाले शेयर्स में macd का स्थर 100 से 500 या जादा का बनते हुए दिखाई देता है.इसीलिए हर किसी चार्ट पार macd की range पाता करके उसके अनुसार निर्नय लेना चाहिये.macd माशिक और सापताहिक चार्टपार दुर्बोल होता है तब मंदी के दिशा का स्थिति शुरू होता है.इसीलिए दीर्घो कालाबधि का संकेत मिलने के बाद उसी दिशा में trading करनेका निर्नय लेना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here