BAATEIN KAM KARNE KA KUCH FAIDA

0

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिरसे आप सभीको internet sikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों आज में एक ऐसा topic के बारे में बाताने जा राहा हु जोह की इस साईट के अलावा और कोई साईट में इस पोस्ट आपको नहीं मिलेगा.इस दुनिया में बहुत सारे लोग होते है जैसे कोई जादा बातें करता है और कुछ लोग कम और कुछ लोग सिर्फ काम के ही baatein और सिर्फ important बातें करना ही जादा पसंद करता है.चलिए फिर आज इस पोस्ट में जानते है येह्सब लोगो के अलग तरह के बाते करनेका पीछे क्या छुपा है.

baatein कम करने का क्या फ़ायदा है?

जोह लोग जादा बाते करता है,सीरियसली देखा जाए तोह उनलोगों के बातो का जादा value नहीं होता है,और इसी वजह से उनलोगों के बात जादातर लोग avoid करता है.और simpily ऐसे ही होगा ना की आप आगर जादा बात करोगे तोह सब आपके बात को serious नहीं लेगा,क्यों की उनको पाता है की आप हामेशा इसी तरह बाते करते रहते है इसीलिए वोह आपके साथ ऐसे करते है.और इसमें आपको  कुछ  और मुश्किल में पढना पड़ता है जब आप सीरियस कोई भी baatein करते है तब भी लोग आपके बाते avoid करता है.तोह आपको इसमें प्रॉब्लम आ सकता है.और इससे जुड़े हुए एक काहाबत भी है की

”जोह  जादा  बोलता  है 
वोह  कभी  करता नहीं है”

और जोह लोग कम बोलता या सिर्फ जरुरत से जादा बात नहीं करता है वोह आदमी का हर एक बात सब ध्यान से सुनता है.क्यों की जोह कम बोलता है उसको सब कोई सम्मान करता है .औए आप यह भी देखा होगा की जोह लोग बाते कम करता है उनलोग जादा बुद्धिमान भी होता है.और उनलोग सिर्फ काम का ही बाते जादा करता है.लेकिन में आपको यह भी नहीं कह राहा हु की आप बिलकुल ही बाते करना बंध करदे.में सिर्फ आपको यह बाता राहा हु की जितना होगा सिर्फ काम का  और जरुरत के हिसाब से ही baatein करे.और आपको इस छोटा सा पोस्ट के माध्यम से पाता चल ही गया होगा की बात जादा करने में आपको फ़ायदा है या फिर बातें कम करने में आपको फ़ायदा है.

में आसा करता हु की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा.और में एक बात और आपको कहना चाहूँगा की जोह यह मेरा साईट है इसमें में हरदिन एक नए पोस्ट लेकर आता हु.जिससे आपको हरदिन कुछ नया चीजे के बारे में सिखने मिले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.