Income Tax क्या है और इससे किसको किसको भरना पड़ता है?

0

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिर से आप सभीको internetsikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों आज में इस पोस्ट के माध्यम से आप लोगो  Income Tax के बारे में थोडा बातानेवाला हु जैसे इनकम टैक्स  क्या है?Income Tax किसको किसको भरना पड़ता है?Income Tax कब देना होता है?कितना रुपिया के उपर Income Tax देना होता है?दोस्तों जबसे हामारे देश में नए सरकार आये है तबसे नए नए एक एक tax लागाते ही जा रहे,और उसमे से एक tax जोह हामारे उपर लागते आरहे है वोह है इनकम टैक्स  जोह की जादा से जादा लोग  इस टैक्स से दूर जाना चाहते है.लेकिन आप भी आगर इस Income Tax को लेकर डरते है तोह यह सोच आपके बहुत ही गलत है.आप अगर एकबार इस टैक्स को समझ लेते है तोह आपको इसके फ़ायदे भी दिखाई देता है.तोह चलिए फिर आज आपको बाताते है Income Tax की पूरी जानकारी,जिससे आप समझ सकते है इनकम टैक्स  के बारे में और कब कब भरना होता है वोह भी समझ पाए.

Income Tax कब देना होता है?और sarkar को कैसे पाता चलता है किससे इनकम टैक्स भरना  है?

दोस्तों जब भी आप कोई  भी cash transaction,mutul fund,या फिर कोई भी प्रॉपर्टी खरीदते है,या फिर कोई भी fixed deposit करते है या हो सकता है की आप कोई बिदेशी मुद्रा के भी बड़ी रकम के लेन देन करते है तोह इस तरह के transaction के हिसाब आपको Income Tax बिभाग को देना होता है.और यह भी हो सकता है की आपके bank account में 1 साल के अन्दर आप 10 लाख के अधिक राशि के जमा करते है तोह आपके इस transactions को bank के तरफ से Income Tax depertement को भेजा जाता है.और तब आपसे Income Tax depertement के तरफ से नोटिस आता है,आप आगर इनकम टैक्स  नहीं भरते आरहे है तोह.और इसी वजह से fixed deposit का मात्रा भी 10 लाख तक का ही राखा गया है,ताकि fixed deposit के renewal पार यह इनकम टैक्स  ना लागे.

Income Tax क्या है?what’s Income Tax? 

दोस्तों आपको सरल भासा में समझाए जाए तोह Income Tax वोह है जोह हामारे Income के उपर लागने वाला टैक्स.और इसका मूल असर यह है की आप कितना कामाते है उसके उपर कुछ % टैक्स आपको सरकार को देना पड़ता है.और आपके कितना tax देना है वोह आपके company या firm के उपर depand करता है.अगर कोई काम करता है और उसको टैक्स देना है तोह उसके उपर slab rate के हिसाब से इनकम टैक्स  देना होत है.और आपके कोई कम्पनी या firm है तोह उपर टैक्स का fixed रेट देना होता है. और ध्यान राखे की इनकम टैक्स  आगर आप नहीं भरते है तोह सरकार के तरफ से पेनल्टी भी लागा सकते है,तोह सही समय पार Income Tax भरे और आपने देश को आगे बाढाने में सहयोग करे.

Income Tax क्या है और इससे किसको किसको भरना पड़ता है?

Income Tax के basic terms की जानकारी हिंदी में 

Income Tax के basic terms को देखा जाए तोह इसमें 3 parts आता है जोह की में आपको बाताने जा राहा हु.

  1. Assessee-  दोस्तों assessee के मतलब यह है की जोह टैक्सपेयर आपने इनकम से Income Tax के एक्ट के अनुसार टैक्स भरते है उससे assessee काहा जाता है.
  2. financialyear (f.y)– financial year का मतलब ज्सिमे इनकम होता है,जैसे मान लीजिये 1 april se 31 मार्च तक होता है.उदाहरन के हिसब से देखा जाए तोह आगर आपने कोई इनकम june 2017  में किया तोह आपका financial इयर 1 अप्रैल 2017 से 31  मार्च 2018 का होगा.
  3. assessment year (a.y)– आपके द्वारा फाइनेंसियल इयर में  कामाये हुए पैसे पार assessement year टैक्स देना पड़ता है. a.y  इयर वोह होता है जब फाइनेंसियल इयर ख़तम होने के बाद असेसमेंट इयर शुरू होता है.   financial इयर 2016-2017 के लिए assessement year 2017-18 होगा.

income Tax कितने प्रकार का होता है?

Income Tax दो तरह का होता है.

  1. direct tax – डायरेक्ट टैक्स में Income Tax डायरेक्ट आपके द्वारा सरकार को दिया जाता है.

2.   indirect tax – इसमें अलग अलग के कुछ टैक्स योग होता है  जैसे sales tax,service tax,excise tax,custom tax जुड़े होते है.इसमें हामे डायरेक्ट सरकार को टैक्स नहीं देना होता है.जोह बिल हाम pay करते है उमसे tax include होता है,ऐसे ही सरकार को indirect टैक्स मिलता है.

Income Tax क्या है और इससे किसको किसको भरना पड़ता है?

हामारे उपर Income Tax  कब लागू होता है?

दोस्तों हामारे सबके मन में कही ना कही यह बाते जरुर घूमता है की Income Tax कब हामारे उपर लागू होता है यानि की कितने पैसे के उपर इनकम होने पे हामे इनकम टैक्स  देना पड़ता है?तोह इसका उत्तर एक ही है की आपके टोटल income के basic exemption limit से जब जादा होता है तब आपको इनकम टैक्स  भरना पड़ेगा.मान लीजिये कोई बेकती financial year में अलग अलग तरीके से पैसे कामाते है और उसके उपर Income Tax भी अलग अलग रूप में बाट दिया जाता है,और उसके उपर आपके इनकम टैक्स  return कैलकुलेशन किया जाता है.और आप आगर गलत इनकम टैक्स  return भरते है तोह आपकी return inavalid माना जाता है,तोह हामेशा सही तरह से ही income दिखाना चाहिए.

income कितने तरह का हो सकता है?

  1. सैलरी इनकम– इसमें जादातर सैलरी वाले,allowances,पेंशन वाले र graduity वाले को जुड़ा जाता है.
  2. house property इनकम– इसमें आप आपने हाउस प्रॉपर्टी से  जोह भी लेन देन करते है उससे जोह इनकम होता है वोह इस हाउस प्रॉपर्टी के catogery के इनकम के अंदर पड़ता है.
  3. busniess से मुनाफ़ा/नुक्सान– आप अगर कोई busniess करते है या फिर प्रोफेशनल कोई काम करते है तोह आपके इनकम इसमें जुड़ा हुआ रहता है.
  4. capital gain– इसमे आप जब किसी भी capital asset को transfer करते है और उसमे जोह भी इनकम होता है वोह इसमें जुड़ा हुआ रहता है.
  5. कोई और तरीके से इनकम– इसमें जोह इनकम उपर के किसी भी catogery के अन्दर नहीं आता है वोह   इस catogery के अंदर पड़ता है.जैसे interest,dividend,fixed deposit इस तरह के इनकम.
 Income Tax स्लैब रेट की पूरी जानकारी 
  • TAX SLAB OF MEN AND WOMEN UPTO 60 YEARS
SLABRATE
2500000%
250001-5000005%
500001-100000020%
1000000 +30%
  • TAX SLAB OF SENIOR CITIZENS 60 TO 80 YEARS
INCOME TAX SLABINCOME TAX RATE
3000000%
300001-5000005%
500001-100000020%
1000000+30%
  • TAX SLAB OF SENIOR CITIZENS ABOVE 80 YEARS
INCOME TAX SLABINCOME TAXRATE
5000000%
500001-100000020%
1000000+30%

तोह दोस्तों यह था Income Tax की पूरी जानकारी.और में उम्मीद करता हु की इस पोस्ट से आप Income Tax के बारे में समझ सकते है,जैसे Income Tax क्या है? और कब Income Tax देना होता है?कितने रूपया से जादा होने से Income Tax भरना होता है,और इनकम टैक्स  कितने प्रकार के होते है.फिर भी Income Tax के बारे में कोई भी सावाल आपके पास है तोह आप निचे दिए हुए  कमेंट box में कमेंट करके बाता सकते है,में जरुर आपके सवाल के जबाब देने का पूरी  प्रयास करूँगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here