VALENTINE,S DAY KYU MANATE HAI?AUR VALENTINE DAY KYA HAI?

2
हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिर से आप सभीको Internetsikho में बहुत बहुत स्वागत है.दोस्तों हमारे देश भारत ही एक ऐसा देश है  जहा 12 महीने में 13 तोह्यर मानाया जाता है.और हर एक तोह्यर के पीछे कही ना कही ऐतहासिक घटनायो जुड़े हुए है जिसके वजह से ही उस दिन को तोह्यर के रूप में मानाया जाता है.जैसे होली,दिवाली,क्रिसमस,ईद ईसिस तरह भारत में रहनेवाले अलग अलग धर्म के अलग अलग लोगो का भिन्न भिन्न तोहारे मानाया जाता है.ठीक उसि तरह से भारत जितने डिजिटल बनते जा रहे है और जुबायो के लिए उतसाह भी उतना ही अधिक बढ़ते जा रहे है.जी हा जुबायो के 14 february भी एक तोहर से कम नहीं ,जिससे हमसबी valentine day के नाम से जानते है.और इस दिनके पीछे भी एक काहानी छुपे हुए है जोह की बहुत कम लोग ही जानते है.दुःख की बात तोह यह है की यह तोहर युबाओ के लिए ही है और वोह इस दिन को बहुत ही यादगार रूप में मनाते है लेकिन उन्हें यह पाता नहीं रहता है की हम यह दिन को क्यों मना रहे है इसके पीछे क्या घटनाये है और कोई जानने का प्रयास भी  करते है.तोह इसलिए में यह निर्णय लिया हु की आज  ईसि पोस्ट के माध्यम से valentine day से जुड़े हुए सारे सवालो का जवाब देनेका पूरी कोशिस करूँगा.

valentine day किस दिन से मानाना शुरू होता है?

दोस्तों valentine day का कुछ बड़ा ही इतिशस है और यह  तोहार लगातार 7 दिनों तक चलते रहता है.valentine day के 7 दिन पहले से ही पयार का सिलसिला शुरू हो जाता है.और युबाओ इस 7 दिनको अलग अलग तरीके से आपने पयार को जाताते रहते है.चलिए फिर देख लेते है valentine day के वोह 7 दिनों का लिस्ट

  • 7 FEBRUARY-Rose Day 
  • 8 FEBRUARY-Propose Day
  • 9 FEBRUARY-Chocolate Day
  • 10 FEBRUARY-Teddy Day
  • 11 FEBRUARY-Promise Day
  • 12 FEBRUARY-Hug Day
  • 13 FEBRUARY-Kiss Day 
  • 14 FEBRUARY-valentine day

valentine day क्यों मानाया जाता है?valentine day के पीछे के राज क्या है?

valentine day किसके साथ और कैसे  मानाये ?

दोस्तों हमसब तोह सोचते है की यह सिर्फ और सिर्फ युबाओ के तोहार है और वोह अपनी अपनी girlfriend/boyfriend एक साथ मिलकर इस तोहार का उपोभोग करते है.लेकिन आप भी अगर यह सोच राखते है तोह सायेद आपके सोच गलत भी हो सकता है.क्यों की आजके दिन में यह तोहर सिर्फ lovers के लिए ही नहीं वल्कि हर एक रिश्ते में इस दिन को बहुत धूमधाम से इस तोहर का आनन्द लेते है.जैसे आपने परिबरो में भाई,बहन,प्रतिबेशी के उपर स्नेह और माया  और पयार को बढकरार रखने के लिए और प्यार को जाताने के लिए इस दिनको सभी लोग मानाने लागे है,और धीरे धीरे यह एक मोहब्बत का दिन बनते जा रहा है.

यानि की आप अगर इतने दिन से आपके दिमाग में यह सोच रखते थे की यह सिर्फ lovers के लिए ही है.तोह आपके लिए में कुछ उद्धरण के रूप में बाताना चाहूँगा.जैसे आप इस दिन में आपने जीबनसाथी के साथ आपके रिश्ते को एक अटूट बंधन  में बढकरार राखने के लिए इस दिन को माना सकते है.

आप अपने lovers के साथ होनेवाले नए रिश्ते को मनचाह बानाने के लिए इस दिन को माना सेकते है.आप आपने दोस्तों के साथ आपके दोस्ती की और लम्बी और अटूट बानाने के लिए इस दिन का उपोयोभोग कर सकते है आपने दोस्तों के साथ.आप आपने परिबार के साथ भी इस दिन का उपोभोग कर सकते है इससे आपके रिश्ते में मजबूती नजर आएगा.इतने सारे उद्धरण के देखने के बाद इतना अंदाजा लागा सकते है की आप जिनके लिए थोड़े भी फ़िक्र करते है उनके साथ आप इस valentine day का उपोभोग कर सकते है.इसमें कोई मात्रा नहीं है की आप सिर्फ आपने lovers के साथ ही इस दिन को माना सकते है.

valentine day क्यों मानाया जाता है?valentine day के पीछे के राज क्या है?

 claudius 2 के ज़माने में एक एक पादरी राहा करता था .और एक father राहा करता था जिससे लोग sent valentine काहा करता था.यह उस दौर की घटननाये है जिससे आप 3rd centurey भी कह सकते है.यह वोह शख्स था जोह हुकूमत के खिलाफ उस हुकुमत के सिपाही का साधिया करवाता था.तोह रजा claudies को इसपार टी गुस्सा आया आया.उसके मूल को कानून को तोड़ने पार राजा claudies ने उससे जेल में डाल दिया.एक ऐसा बदनाजीब आदमी था जोह मेजाजी,इश्क,ashique इन् बातो पे मुक्त दिलवाया था.जब इससे जेल में डाल दिया तोह उसने उसी जेल के जेलर की बेटी से ashique की और उससे आपने इश्क के झांसे में फासाया और उसके साथ एक नजयेस रिश्ता ख्गएंन किया.उस जेलर की बेटी इस valentine की दीवानी हो गयी और रोजाना चोरी चुपके से इससे मिलने के लिए आती थी.और आपने साथ एक लाल गुलाब लाती थी नाज्येब  महबूब के लिए.

यहा तक की उसने इस औरत को इतना दीवाना बाना दिया था की उसने आपना मस्ब छोडकर इस पादरी के मस्ब यानि इज्यत को काबुल कर लिया था.जब यह बात इसके बाप जेलर को पता चला इसने उसके रजा से काहा की जिन्हें हामने जेल में बंध किया था,साजा दी थी यह सोचके की वोह बदल जाएगा लेकिन उसने हामारे साथ धोखा किया है और मेरी ही बेटो को अपने प्रेम जाल में फासा लिया.

राजा को इस बात पे बहुत गुस्सा आया और उसने फासी की साजा दे दी .और जब फासी का सजा का एलान हुआ तोह उसकी मसुखा रोने लगी उसवक्त इस valentine ने उसके नाम पार एक कार्ड बानाया और उससे लिखकर भेजा की तुम्हारा valentine.फिर आखिर 14 FEB   फ़ासी दे दी गयी और वोह मर गया यह वाखिया 3rd सेंचुरी का है.

लेकिन सोचने वाला बात यह है की 12 सेंचुरी तक किसिने भी valentine day इस तरह नहीं मानाया था.और फिर 12 सेंचुरी में फिर इन्ही christians ने इन नाश्रनियो ने एक ह जारी की सोचा सब जातियों को valentine के धोके में डाला जाये.आपने उस पादरी के मरने के दिन को मानाये जाए.अपने उस पादरी के फ़ासी के दिन को मानाया जाए और  उसका नाम उस पादरी से जुड़ा जाए और उसको valentines day काहा जाए.

आप सबलोग इंग्लिश आछे तरह से जानते होंगे,जब कोई चीज किसीसे मंजूर हो जाते है या फिर किसीसे जुड़ जाते है तोह उसके साथ S लागाये जाते है.अब आप इस valentine day के नाम पे गोर से देखे तोह साधारणत यह valentine day के नाम से ही मानाये जाते है.लेकिन हकीकत में इसका जोह pronouns नाम है valentines  day.यह एक valentine वाला दिन है औ रूस पादरी की मौत को लोग किस तरह से माना रहे है?

बेहाई को आम करते हुए,अपने हाया को छोरते हुए नजयेत रिश्ते नजयेत मोह्बेतै के साथ इस दिन को मानाये जा रहे है .जिस तरह वोह दीवानी उसके लिए गुलाब लेकर जाया करती थी आज भी जाने अनजाने लोग आपने महबूब के लिए गुलाब लेकर निकल रहे है.

क्या हो गया है हामे? कि जिस तरह आपने valentine ने इस नाजयेद रिश्ते के लिए आपनी मेह्बूबा के लिए कार्ड     बानाया आज ईसि  तरह इश्क में पढ़े हुए बेजार आशिको ने आपने महबूबा के लिए वोह कार्ड के तौफे देना शुरू कर दिया,गुलाब के तौफे देना शुरु कर दिया.

हाम काहा जा रहे है?

हामे क्या हो गया?

एक पादरी की दिन माना रहे है?जिसमे गुनाह को आम किया.और आज हाम उसकी याद माना रहे है.आरे हाम तोह मोहब्बत करते है जरुर मोहब्बत करते है सब इंसान के दिल में भगबान ने दिल दिया है मोहब्बत जरुर है.लेकिन जिसने गुनाह को आम किया हाम उसके दिन माना रहे है.हाम मोहब्बत उनसे करते है की जिनके मोहब्बत के लिए हामारे सिंहे में दिल है.हम god से मोहब्बत करते है,हाम आपने माता पिता से मोहब्बत करते है,हाम इंसान से मोहब्बत करते है…लेकिन हामने कोनसा दरवाजा पसंद किया?

जिनमे काहा की तुम मौमिन ही नहीं सकते जबतक की मुझसे मोहब्बत ना करलो.यह हामलोग क्या मानाने जा रहे है?यह किसिका फासी का दिन को हमलोग ऐसे धूमधाम से मानाने में क्यों ब्यस्त है?.हो सके तोह आजसे valentines day बोलना बंध करे और valentine day बोलना सीखे.

दोस्तों इस पोस्ट में मैंने आपको valentine day से जुड़े    हुए सारे सावालो का जवाब देनेका प्रयास किया हु,जिसमे आप आसानी से  समझ सकते है valentine day कब और क्यों मानाया जाता है और किसके साथ और कब और कैसे  इस दिन को माना सकते है उसके बारे में भी पूरी जानकारी दिए है.और इस valentine day मानाने के पीछे क्या रहस्स्य है उसके बारे में भी बाताये है.उम्मीद करता हु की आपको यह जानकारी पसंद आएगा,और इस जानकारी से जुड़े हुए आपके मन किसि भी तरह का साबाल या सुझाब रहता है तोह आप निचे कमेंट box का उपोयोग करके मेरे साथ शेयर कर सकते है.धन्न्य्बाद.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.