खुसी रहने के लिए क्या करे?How To Be Happy?

2

हेल्लो दोस्तों आज एकबार फिर से आप सभीको internet sikho में बहुत बहुत स्वागत है.खुसी ऐसे तोह एक बहुत ही छोटा सा शब्द है,लेकिन हरदिन हमसभी कही ना कही इस खुसी को पाने के लिए अपने अजन्ते में छुटते रहता है.लेकिन फिर भी हामे मालूम नहीं है की सच में क्या खुसी को हम देख सकते है.एकजन भूखे के लिए 3 समय भर पेट खाना मिल जाना ही उसके लिए सबसे ख़ुशी के बात बन जाता है.लेकिन वोही खाना अगर कोई मध्य्बित या फिर धनि बेकती को मिलता है तोह वोह खुश ना भी हो सकता है.

How To Be Happy?

इसका मतलब हामे स्पस्ट हो जाता है की ऐसा निर्दिष्ट कुछ है ही नहीं जिससे करने से हमसब को ख़ुशी मिल सकता है.जोह आपके लिए खुसी के कारन है वोह मेरे लिए खुसी के कारन नहीं भी हो सकता है.खुसी पाने के लिए ना हामे कोई उची सिखर में पहुचना पड़ेगा ऐसा भी कुछ नहीं है.लेकिन हम अगर कुछ सरल तरीके को मान के चलते है तोह हम अपने आपको एक ख़ुशी बेकती के रूप में अनुभब कर सकते है.तोह चलिए आज जान लेते की कैसे जीबन में ख़ुशी रह सकते है?

 

जीबन में सुखी रहने के लिए क्या करे?How To Be Happy?

खुसी रहने के लिए क्या करे?How To Be Happy?

  • जोह आप कर नहीं सकते है उसके बारे में सोचके आफसोस ना करे 

हामारे जीबन में आफसोस ही एक सबसे बड़ा कारन है जिसके बजह से अखुशी महसूस होता है.जोह आप कर नहीं सका या फिर कर नहीं सकता उसके बारे में सोचके आपने मन को दुःख ना दे,जोह आप कर सकते है उसके बारे में सोचे.हो सकता है आप school में दोड प्रतियोगिता में प्रथम नहीं हो पाया,लेकिन हो सकता आप अछे एक मेकेनिक है,और computer अच्छे से मेरामत कर सकते है.हो सकता है आपके पास कोई smartphone नहीं है,लेकिन आपके आसपास आपके बहुत आछे आछे दोस्त है जोह की हामेसा आपके साथ देता है.आभी आप थोडा सोचे की जोह लड़का school के दौड़ प्रतियोगिता में प्रथम हुआ था लेकिन उससे कंप्यूटर के कुछ भी मालूम नहीं है.और जिसके हाथ में एक smartphone है लेकिन फिर भी ऐसा कोई करीबी दोस्त नहीं है जोह हामेशा उसके साथ दे.तोह एक तरफ दिखा जाए तोह आप हामेशा आगे है.

और कुछ लोगो के अन्दर यह एक आदत रहता है की में नहीं कर सकता,में नहीं कर पाऊंगा,येह्सब काम मेरे बस का नहीं है इस तरह के मनोभाब रहता है.जोह अपने मन को अखुसी राखने के लिए सबसे बड़ा कारन बन जाता है.अगर में कोई अछे  बेकती के ही तुलोना करे (इसमें में किसीका नाम उल्लेख नहीं करना चाहता हु) तोह हामेशा वोह लोग कहता है की में कुछ नहीं कर सकता ,मेरे से कुछ नहीं होगा इस तरह के बाते.लेकिन वोह बेकती बहुत आछे cricket खेलता है,बहुत आछे tech ज्ञान भी है,handwriting भी आकर्षित करने  वाला जैसा है,बहुत आसानी से किसीको भी हासा सकता है,पढाई में भी आछे है.इतने सब गुन आपने अन्दर रहने के बाद भी बोलता है की मुझे कुछ नहीं आता है,में कुछ नहीं कर सकता हु.

 

इस तरह के अगर किसीका मनोभाव रहता है तोह आप जोह कर सकते है उसके उपर फोकस करे.उसके उपर समय देकर ऐसा कुछ करनेका कोशिस करे जिससे आप अपने को एक ख़ुशी बेकती के हिसाब से मान सकते है.और जादा negative चीज के बारे में सोचके आफसोस करने से आपके मन में दुःख पहुचता है ,और आप कभी आपने आपने एक सुखी/ख़ुशी बेकती नहीं मान सकते है ,एही असलियत है.लेकिन आप जोह कर सकते है उससे लेकर ही आप संतुस्ट रहता है तभी आपने आपको एक ख़ुशी बेकती मान सकते है.तोह आज से एक संकल्प करे की जोह आपके नहीं है या फिर जोह आप नहीं कर सकते है उसके बारे में सोचकर आफसोस नहीं करूँगा.

खुसी रहने के लिए क्या करे?How To Be Happy?

  • जीबन में ख़ुशी रहने के लिए खेलने का आदत राखे 

gaming ही एक ऐसा चीज है जोह की हर एक उम्र के लोगोको  ख़ुशी  करने में सक्षम रहता है.पुरे दिन के काम के बाद थोडा समय निकाले खेलने के लिए,इससे आपके शारीर भी आछा रहेगा और मन भी.अगर आपके उम्र जादा है तोह भी कोई घाबडानेका बात नहीं है ,आपके समबयसी किसीको ढूंढे और खेलना शुरू कर दे.

खुसी रहने के लिए क्या करे?How To Be Happy?

  • ख़ुशी रहने के लिए दोस्तों के साथ थोडा समय बिताये

दोस्तों के साथ आड्डा देकर समय बिताना यह पहले के ज़माने में बहुत प्रचलित था.लेकिन आजके इस internet के दुनिया में दोस्तों के साथ आड्डा देनेके लिए किसीके पास समय ही नहीं है.आजके दिन में computer और smartphone के वजह से ही दोस्तों के साथ बैठकर समय बिताने का प्रचलित धीरे धीरे ख़त्म होते जा राहा है.आजके दिन में लोग कहिपार जाकर बैठकर बात करने से जादा facebook  और whatsapp में ही जादा समय बिताते है.लेकिन इसमें क्या फर्क है वोह आपको महसूस होता ही होगा.                                                                तोह हामेशा प्रयास करे की दोस्तों के साथ मिलकर समय बितानेका.इससे आपके मन में एक अलग ख़ुशी मिलेगा,और आपने आपको खुस राखने के लिए कोई अलग अलग कारन धुंडने का जरुरत नहीं पड़ेगा.

खुसी रहने के लिए क्या करे?How To Be Happy?

  • जीबन में ख़ुशी रहने के लिए लोगो को माफ़ कर देना सीखे 

हामारे जीबन में कभी ना कभी ऐसा जरुर कुछ ना कुछ होता ही  है की आपके पसंदिता mobile phone को कोई तोड़ देता है,आपके पसंदिता bike को कोई गिरा देता है उस समय आपके मन में जरुर gusaa आता है और होना भी चाहिए,और आपके गुस्सा उसके उपर दिखा देता है .लेकिन आपने आपके गुस्से उसको दिखा तोह दिया है,लेकिन इससे  क्या होने वाला है? आपदोनो के मन में सिर्फ संकोच के अलावा कुछ नहीं.आप उसके उपर गुस्से पे रहेगा तोह वोह भी आपके उपर गुस्से में रहेगा.लेकिन आप आगर उसके उपर गुस्सा ना दिखाकर उससे माफ़ कर देते थे तब क्या होता था?तब आप दोनों के मन में भी कोई बिबाद नहीं होता था.और वोह आपने मन ही मन खुदको दोषी समझता था,और आपके उपर उसके मन और भी मधुर हो जाता था.में आपको और एक बात बाता दू की जब माफ़ करने का बात बाता ही दिया की यह में भी कभी किसीको माफ़ नहीं कर पाता था..कोई मेरे साथ कुछ गलत काम करता था तोह में उसके साथ लड़ जाता था.लेकिन अब मुझे समझ में आता है की किसीको गुस्सा ना दिखाकर चुप रहना या फिर कुछ ना बोलना ही असल में शांति है.इसीलिए अभी माफ़ कर देने से ही दिल को जादा शकुन मिलता है.

दोस्तों आपको क्या लागता है की में जोह कुछ भी कारन उपर बाताया है उससे follow करने से जीबन में खुसी मिल सकता है?आप जरुर comment  करके आपके मतामत बाताये .और हा इस पोस्ट को पढने के बाद उससे follow करके आपके जीबन में कुछ परिबर्तन आया की नहीं वोह भी हामारे साथ जरुर शेयर करे.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.